Sat February 16, 2019
ताजा समाचार

News Detail

बागपत बड़ौत सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने राम मंदिर को लेकर दिया बड़ा बया

imageeee

बागपत 2019 लोकसभा चुनाव में अभी कुछ ही महीने बाकि है। और तमाम पार्टियां जनता को लुभावने प्रयास करेंगी तो वही बीएसपी व एसपी के गठबंधन से कॉंग्रेस को बाहर रखने को लेकर भी हो- हल्ला मचा हुआ है। और विपक्षी पार्टियां भी बीजेपी सरकार पर राम मंदिर को लेकर सवाल उठा रही हैं कि बीजेपी सिर्फ वोट के लिए राम मंदिर के मुद्दे को उठा रही है। वही ऐसे में आज सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने आज बागपत में राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट से हमारे पक्ष में ही फैंसला आने की उम्मीद है। और अगर उनके पक्ष में फैंसला नही आया तो उनकी पार्टी राम मंदिर पर अध्यादेश लेकर आएगी।

वहीं उन्होंने कहा कि 1992 में रामलला की जन्मभूमि पर खड़ा हुआ ढांचा गिरा था। 1992 से लेकर 2019 के बीच बहुत लोकसभा चुनाव आये और गए है। रामलला का भव्य मंदिर बने भारतीय जनता पार्टी झ्स का पूरा समर्थन करती है। दूसरी बात रामलला की जन्मभूमि पर बाबर के नाम से एक भी ईंट नही रखने दी जाएगी। हम कानूनी प्रक्रिया का सम्मान करते है। सर्वोच्च न्यायालय में 10 तारीख से सुनवाई होने जा रही है। मुझे लगता है हर रामभक्त बहुत बेशब्री से 10 तारीख की प्रतीक्षा कर रहा है। सुनवाई होगी जो फैंसला आएगा उसके आधार पर उम्मीद लोगो को है कि फैंसला रामलला के पक्ष में आएगा अन्यथा माननीय प्रधानमंत्री जी ने जो कहा उसका भाजपा का एक एक कार्यकर्ता राम मन्दिर का समर्थन करता है।

उन्होंने अवैध खनन को लेकर चल रही सीबीआई की जांच पर बोलते हुए कहा कि में अखिलेश यादव को में इतना ही कहना चाहूंगा कि देश के अंदर जो भी जांच एजेंसियां है वे स्वतंत्र तरीके से काम कर रही है। अगर लोकसभा चुनाव से 6 महीने पहले किसी जांच एजेंसी के ऑफिस में ताला लगाने का प्रावधान हो तो कर दे। सीबीआई अपनी जांच कर रही है उसमें जो दोषी है वो घवरा क्यों रहे।

आपको बता दे कि यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बागपत जिले के कस्बा बडौत में जनता वैदिक डिग्री कॉलिज में त्रिस्तरीय पंचायत सम्मेलन में मुख्य अतिथि पहुंचे थे। और उन्होंने यहां पर देश और प्रदेश सरकार की योजनाओं ओर विकास और के बारे में भी बताया और उन्होंने 66 करोड़ की योजनाओं का भी शिलान्यास किया है।

Highlights

Previous 1 | 2 | 3 | 4 | 5 | 6 | 7 | 8 | 9 | 10 Next